Foam sheet क्या होती है?, क्वालिटी, फ़ायदे तथा नुकसान

0
1108

यदि आप एक फोम से बना हुआ गद्दा या तकिया खरीदने के बारे में सोच रहे हैं और आपको इसके बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है तो इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आप इतना समझ जाएंगे कि आपको अपने लिए कैसा गद्दा या तकिया खरीदना है? इसके बारे में निर्णय लेने में परेशानी नहीं होगी|

वैसे इस ब्लॉग पर एक अच्छा गद्दा चुनने के लिए क्या चीजें ध्यान रखनी चाहियें? इसके ऊपर भी पोस्ट लिखी हुई है|

Foam sheet क्या होती है?

सबसे पहले इस पोस्ट में हम यह जान लेते हैं कि फोम शीट होती क्या है? फोम क्या होती है?

फोम TDI & Polyol जैसे कुछ केमिकल्स का मिश्रण होती है|

फोम बनाने के लिए इन केमिकल को आपस में मिलाया जाता है फिर इन्हें एक बड़े से बॉक्स या एक बड़ी सी बॉक्स नुमा नाली में डालकर छोड़ दिया जाता है| 

यह केमिकल फूलकर एक गुदगुदे  से पदार्थ में परिवर्तित हो जाते हैं| इसे ही फोम कहते हैं|

अब इस फोम के ब्लॉक में से अलग-अलग साइज की सीटों को काट कर निकाल लिया जाता है जिन्हें फोम शीट कहते हैं|

इसे सामान्य भाषा में PU FOAM (Polyurethane) कहते हैं|

foam sheets
foam sheets

फोम शीट का इस्तेमाल कहां कहां होता है? 

  • गद्दे बनाने में
  • सोफे बनाने में 
  • गाड़ियों की सीटें बनाने में
  • फिल्टर बनाने में
  • हेलमेट के इनर सरफेस में
  • लेडीज अंडर गारमेंट्स में
  • पेंट करने के रोलर बनाने में
  • गद्दों के कपड़ों पर Quilting में 
  • स्टांप पैड बनाने में
  • ब्लैक बोर्ड साफ करने के लिए डस्टर बनाने में
  • तकिए बनाने में

साथ ही यह भी अवश्य पढ़ें –

बोंडेड फोम के गद्दे की जानकारी

फोम शीट के मिथ्य 

  • Foam sheet Color

बहुत से लोगों को यह गलतफहमी होती है कि फोम की क्वालिटी उसके रंग पर निर्भर करती है| 

जैसे कि बहुत से लोग यह सोचते हैं कि 40 डेंसिटी की फोम गुलाबी रंग की होती है तथा 32 डेंसिटी के फोम पीले रंग की होती है| 

तो दोस्तों, आपको यह गलतफहमी अपने दिमाग से निकाल देनी चाहिए की किसी फोम के रंग से उसकी क्वालिटी का निर्धारण होता है| 

यह तो कंपनियां अपनी सुविधा के हिसाब से बनाती हैं ताकि बहुत सारे फोम के ब्लॉकस के बीच में किसी भी डेंसिटी को वह आसानी से पहचान सके|

यही फायदा आगे दुकानदारों को भी होता है कि वह भी आसानी से कलर के माध्यम से फोम शीट की पहचान कर पाते हैं कि यह कितने डेंसिटी की है?

अलग-अलग कंपनियां अलग-अलग डेंसिटी पर अलग-अलग कलर कोडिंग कर सकती हैं| 

सामान्य तौर पर 32 डेंसिटी में पीला रंग तथा  40 डेंसिटी में गुलाबी रंग तथा 50 डेंसिटी में नीले रंग का इस्तेमाल किया जाता है|

इस कारण से लोगों को यह गलतफहमी होना साधारण सी बात है| 

  • Foam sheet Pasting

फोम को चिपकाने के लिए जिस adheshiv का इस्तेमाल किया जाता है उसे सिलोचन या बॉस्टिक कहते हैं| 

यदि इस केमिकल द्वारा फोम शीट को सही तरीके से चिपकाया जाए तो वह जोड़ खुल नहीं सकता|

यदि उसे ताकत लगाकर खोलने की कोशिश की जाएगी तो फोम दूसरी जगह से फट जाएगी परंतु वह जोड़ नहीं खुलेगा| 

बहुत से लोगों को यह  गलतफहमी रहती है कि यदि फोम  क थोड़ा सा साइज बढ़ाने के लिए  उसमें केमिकल द्वारा एक टुकड़ा जोड़ दिया जाए तो वह छुट जाएगा| 

यदि आप गौर करें तो जितने भी सोफे बनते हैं वह फोम को चिपकाकर ही बनते हैं|| 

  • फोम शीट पर कपड़े प्रेस करना 

अक्सर बहुत से लोग अपने फोम के गद्दे पर कपड़े प्रेस करते हैं|

इसके लिए वह उस पर एक पहले कॉटन की मोटी चादर बिछा देते हैं और सोचते हैं कि उनका गद्दा खराब नहीं होगा|

 जबकि वास्तव में ऐसा नहीं होता क्योंकि कुछ ना कुछ हीट अवश्य ही फोम शीट में जाती है| जिस कारण से  धीरे-धीरे फोम शीट खराब हो जाती है| 

Foam sheet Quality

यदि हम क्वालिटी की बात करें तो क्योंकि हमारा blog mattress तथा pillow से संबंधित है इसलिए हम इसमें इन दो विषयों के बारे में ही ज्यादा बात करेंगे|

 वैसे तो बहुत सारी कंपनियां बहुत सारे टाइप्स के फोम शीट बनाती है इनमें से कुछ मुख्य प्रकार तथा उनके इस्तेमाल के बारे में हम इस ब्लॉग में बात करेंगे|

  1. C.g.
  2. Regular foam
  3. Premium foam
  4. Ultra premium
  5. Super premium
  6. High Resilience (H.R.)
  7. Softy foam
  8. Memory foam

साथ ही यह भी अवश्य पढ़ें –

लैटेक्स के गद्दे के फ़ायदे तथा नुकसान क्या हैं?

Foam Sheet Quality Unit

सभी foam sheet की क्वालिटी को Density (घनत्व) में नापा जाता है| 

कंपनियों द्वारा 8 Density  से लेकर 60 Density तक की foam बनाई जाती है|

गद्दों के लिए ज्यादातर पांच  ही डेन्सिटी निर्धारित की गई हैं| ये हैं-

23 Density

28 Density

32 Density

40 Density

50 Density

Foam sheet life

अलग-अलग foam डेंसिटी की अलग-अलग लाइफ होती है| Premium foam, ultra premium foam तथा H.R. फोम की लाइफ कि यदि बात करें तो यह एक सामान्य इस्तेमाल में निम्न प्रकार चलती है|

Density:23 Density28 Density32 Density40 Density50 Density
Life: 2 से 3 वर्ष3 से 5 वर्ष7 से 10 वर्ष10 से 15 वर्ष15 से 25 वर्ष
Foam density life chart

Note: यह लगभग में है| यह केवल प्रीमियम या उससे ऊपर की फ़ोम क्वालिटी के लिए है तथा सामान्य इस्तेमाल करने पर ही लागू होगी|

फोम के साइज

यदि आप खाली फोम शीट को ही गद्दे के तौर पर इस्तेमाल करना चाहते हैं तो आपको 4 इंच या 5 इंच का ही साइज लेना चाहिए|

यह दोनों ही साइज बहुत आसानी से मिल जाते हैं तथा  इन्हें इस्तेमाल करने में परेशानी नहीं होती| 

साथ ही यह भी अवश्य पढ़ें –

गद्दे किन sizes में आते हैं?

फोम के गद्दे के फायदे (Foam sheet advantages) 

  1. अन्य प्रकार के गद्दों के मुकाबले यह वजन में बहुत हल्की होती है| 
  2. अच्छी क्वालिटी की फोम शीट रोल करने पर भी नहीं टूटती| नोट :– परंतु यदि ऐसा बहुत बार किया जाता टूट भी सकती है| 
  3. पानी से खराब नहीं होती|  यदि कभी कभार पानी गिर जाता है तो खराब नहीं होती बार-बार रोज गिरता रहेगा तो खराब हो ही जाएगी!
  4. अन्य Mattress के मुकाबले सस्ती मिल जाती है| 
  5. फोम शीट पर गारंटी भी ज्यादा मिल जाती है| नोट : पर यह उसकी डेंसिटी पर निर्भर करता है कि आप कितनी डेंसिटी के foam सीट ले रहे हैं| 
  6. यदि आप 2 इंची की फोम शीट लेते हैं तो इसे भी आप कभी कभार गद्दे के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं| 
  7. आजकल यह दो pices में भी उपलब्ध हो जाती है इससे फायदा यह होता है कि आप इसे फोल्ड करके कहीं भी रख सकते हैं| ज्यादातर यह हॉस्टल में रहने वाले स्टूडेंट्स के लिए कारगर होती है|
  8. इसमें डस्ट ना के बराबर होती है जैसा कि Coir mattress  में होता है| 

फोम के गद्दे के नुकसान (Foam sheet disadvantages)

यदि किसी चीज के कुछ फायदे होते हैं तो नुकसान अवश्य ही होते हैं| 

एक चीज जो किसी को फायदा पहुंचाते तो हो सकता है वह दूसरे को नुकसान भी पहुंचा सकती हो| 

कुछ ऐसा ही फोम शीट को गद्दे की तरह इस्तेमाल करने पर भी हो सकता है| 

  • फोम शीट लगातार इस्तेमाल करने पर यह बहुत ज्यादा मुलायम हो जाती है|

यदि आपने यह सोच कर फोम शीट ली थी कि यह उतनी ही सख्त है जितनी आपको चाहिए थी तो आपको नुकसान लग सकता है| 

क्योंकि समय के साथ यह मुलायम होती चली जाएगी|

  • गर्मी की समस्या–  यदि आप इसे बिना कॉटन का कवर चढ़ाए बिना कॉटन की चादर बिछाए इस्तेमाल करते हैं तो आपको इसमें बहुत ज्यादा गर्मी का एहसास होगा| 

ऐसा इस कारण से नहीं होगा कि इसमें से कोई गर्मी निकल रही हो बल्कि ऐसा इस कारण से होता है कि इसमें आपकी बॉडी की हीट सर्कुलेट नहीं हो पाती तथा इसके बनाने में हुए केमिकलस के इस्तेमाल की वजह से|

  • कमर दर्द–  यह किसी भी प्रकार से क्लिनिकली प्रूव नहीं है की फोम शीट के गद्दे पर सोने से कमर दर्द होता है| यह पॉइंट में अपने एक्सपीरियंस के आधार पर आपको बता रहा हूं|  

जैसा कि आपने मेरी प्रोफाइल में पढ़ ही लिया होगा कि मैं इस फील्ड में कितने सालों का अनुभव रखता हूं| 

इसी के आधार पर मैं आपको यह बता रहा हूं कि ज्यादा फोम का गद्दा इस्तेमाल करने से  कमर दर्द तथा सर्वाइकल पेन की शिकायतों की शुरुआत हो सकती है|

साथ ही यह भी अवश्य पढ़ें –

लैटेक्स के गद्दे के फ़ायदे तथा नुकसान क्या हैं?

FAQ: Foam Sheet

फोम शीट का इस्तेमाल कहां-कहां किया जाता है?

foam sheets

मुख्यतः गद्दों के रूप में, तकियों में, गाड़ी की सीट में,  सोफे में,  फ़िल्टर में – इत्यादि

क्या फोम का गद्दा धोने से खराब हो जाता है?

निश्चित ही फोम का गद्दा धोने से एक बार में एकदम खराब नहीं हो जाता बल्कि उसके परफॉर्मेंस खराब हो जाती है|  इसी प्रकार यदि उसे बार-बार धोया जाए तो वह निश्चित ही खराब हो जाएगा|

फोम के गद्दे पर कपड़े प्रेस करने से क्या वह खराब हो जाता है?

जी हां,  फोम के गद्दे पर रखकर कपड़े प्रेस करने से वह बहुत ही जल्दी उस जगह से खराब हो जाता है|

किस फोम की किस डेंसिटी का कौन सा कलर होता है?

फोम का कलर कभी भी डेंसिटी पर निर्भर नहीं करता बल्कि इसे तो कंपनियां अपनी सुविधा के हिसाब से तय करती हैं|

फोम के गद्दे की मोटाई कितनी  हो सकती है?

ज्यादातर कंपनियां 800 एमएम मोटाई का ब्लॉक बनाती हैं यानी कि यदि आप इसकी कटिंग ना करवाएं तो आपको 800 m.m.(31.4961 Inch)  तक मोटा एक पूरा गद्दा मिल सकता है|

लेखक के सुझाव

  • यदि आप एक टिकाऊ फोम शीट को गद्दे की तरह इस्तेमाल करना चाहते हैं तो आपको 32, 40, 50 इन तीनो डेंसिटी में से एक सेलेक्ट करनी चाहिए|
  • इस पर  रखकर आपको कभी भी कपड़े प्रेस नहीं करना चाहिए क्योंकि इससे यह बहुत जल्दी खराब हो जाती  है|
  •  6 महीने में इसे एक बार 2 घंटे के लिए धूप अवश्य लगाने चाहिए इससे इसके हार्मफुल बैक्टीरिया समाप्त हो जाते हैं|
  •  इस पर एक कॉटन का अच्छा कवर जरूर चढ़ा कर रखें|

आपका कोई प्रश्न हो तो वह अवश्य पूछें|

यदि आपको आर्टिकल पसंद आया हो तो इस ब्लॉग को सब्सक्राइब अवश्य करें जिससे कि आपको नई पोस्ट समय-समय पर मिलती रहे|

 धन्यवाद

Previous articleCoir mattress क्या होता है? तथा इसके क्या फ़ायदे तथा नुकसान हैं?
Next articleMattress buying guide in Hindi | अच्छा गद्दा कैसे चुने?
मैं नवीन कुमार एक बिज़नेस ट्रैनर हूँI मेरी खुद की गद्दों (Mattress) की Manufacturing है| इनका मैं एक्सपोर्ट भी करता हूँ| इस ब्लॉग के माध्यम से आपको गद्दों (Mattresses) के बारे में सारी जानकारी देने का प्रयास करूंगा| आप मेरे आर्टिकल पढ़कर गद्दों का व्यापार भी कर सकते हैं साथ ही यह ब्लॉग mattress खरीदने के लिए Buying Guide की तरह काम करेगा| मुझे इस छेत्र में काफी अनुभव है इसलिए मैं चाहता हूँ की लोगों को अधिक से अधिक जानकारी उपलब्ध करवा सकूँ| धन्यवाद